Home ViralFilm News Akshay Kumar: फिल्म ‘बेलबॉटम’ देखने के बाद बहन ने अक्षय से पूछा ये सवाल, पढ़िए क्या है पूरा मामला

Akshay Kumar: फिल्म ‘बेलबॉटम’ देखने के बाद बहन ने अक्षय से पूछा ये सवाल, पढ़िए क्या है पूरा मामला

by Vishal Ghosh

कोरोना संक्रमण काल के बाद सीधे सिनेमाघरों में रिलीज होने जा रही पहली मेगाबजट हिंदी फिल्म ‘बेलबॉटम’ पर अक्षय कुमार और उनके फैंस की बहुत सारी आशाएं टिकी हैं। अक्षय की पिछली फिल्म ‘लक्ष्मी’ सीधे ओटीटी पर रिलीज हुई थी और बहुत सारे दर्शकों ने फिल्म घर पर उपलब्ध होने के बावजूद बीच में ही देखनी छोड़ दी थी। अक्षय भी अब मानते हैं कि सिनेमा में स्टार पॉवर जैसा कुछ नहीं बचा है। अगर किसी में स्टार पॉवर बची भी है तो वह है फिल्म का कहानी। फिल्म ‘बेलबॉटम’ की रिलीज की पूरे देश में तैयारियां करीब करीब पूरी हो चुकी हैं, सिर्फ महाराष्ट्र को छोड़कर। देश का सबसे बड़ा फिल्म वितरण क्षेत्र होने के बावजूद महाराष्ट्र में सिनेमाघरों के न खुलने से अक्षय चिंतित तो हैं, लेकिन वह इस बारे में राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से किसी तरह की बातचीत होने की बात पर खुलकर कुछ नहीं बोल रहे। अक्षय का कहना है, ‘महाराष्ट्र सरकार के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे जो कर रहे हैं, ठीक कर रहे हैं। उनको अपना काम पता है। मैं नहीं चाहता कि मेरे कहने से सिनेमाघर खुलें और फिर कोरोना के मामले बढे़ें तो इल्जाम मेरे सिर आए।’ महाराष्ट्र में लोकल ट्रेनों में आम लोगों के यात्रा करने को लेकर निर्देश जारी हो चुके हैं। फिल्म जगत को उम्मीद है कि फिल्म ‘बेलबॉटम’ की रिलीज से पहले महाराष्ट्र में सिनेमाघर खोलने की अनुमति भी मिल जाएगी।

लारा दत्ता की जमकर की तारीफ

निर्देशक रंजीत एम तिवारी की फिल्म ‘बेलबॉटम’ एक ऐसे रॉ एजेंट की कहानी है जो विमान अपहरण के एक मामले की गुत्थी सुलझाने निकलता है। इसके लिए उसे सीधे तत्कालीन प्रधानमंत्री से निर्देश मिलता है। फिल्म ‘बेलबॉटम’ में ये किरदार लारा दत्ता कर रही हैं। फिल्म अब तक तमाम लोगों के अलावा अक्षय कुमार की बहन भी देख चुकी हैं और अक्षय बताते हैं,  ‘फिल्म ‘बेलबॉटम’ के दो शोज होने के बाद मेरी बहन ने मुझसे पूछा कि फिल्म में लारा दत्ता नहीं दिखीं। ये सवाल ही लारा दत्ता की मेहनत का असली इनाम है। लारा दत्ता से मेरी इस किरदार को लेकर जब बात हुई तो मैंने उन्हें यही कहा था कि वो ये कर सकती हैं। उनकी कद काठी और उनकी देहयष्टि बिल्कुल इस किरदार पर फिट बैठती है।’ सच्ची घटनाओं से प्रेरित फिल्म ‘बेलबॉटम’ में लारा दत्ता ने जो किरदार किया है, वह पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी पर आधारित है।

कोरोना ने बदल दिया माहौल

फिल्म ‘बेलबॉटम’ कोरोना काल में शुरू हुई पहली ऐसी फिल्म है जो कोरोना काल में ही सिनेमाघरों तक पहुंच रही है। बीच में फिल्म के ओटीटी पर रिलीज होने की बातें चली थीं और ओटीटी की ताकत को अक्षय भी मानते हैं। वह कहते हैं, ‘महामारी के बाद से ओटीटी पर सामग्री की रफ्तार एकदम से बढ़ी है। जो चीजें अगले तीन साल में होनी थी, वे बीते डेढ़ साल में ही हो चुकी हैं। ये रफ्तार अभी और तेज होनी है। कलाकारों को एक अलग ही स्तर की पहचान मिल रही है। जिनका चेहरा थोड़ा भी जाना पहचाना है, वे सब इन दिनों जबरदस्त तरीके से बिजी हैं। आजकल आपको किसी भी बड़े सितारे की तारीखें आसानी से मिल सकती हैं लेकिन चरित्र अभिनेताओं की तारीखें मिलना मुश्किल है।’

Read Also:- ओलिंपिक गोल्ड मेडलिस्ट नीरज चोपड़ा ने फाइनल की रणनीति का खुलासा किया

पटकथा ही सबसे बड़ी सुपरस्टार

अक्षय कुमार ये भी कहते हैं, ‘फिल्म जगत के तौर तरीके भी महामारी ने पूरी तरह बदल दिए हैं। अब कोई भी निर्माता किसी खास सितारे के लिए फिल्म रोके रखने की बात नहीं सोचता। एक सितारा उपलब्ध नहीं है तो वह दूसरे सितारे के पास तुरंत चला जाता है। मैं इसीलिए कोई फिल्म मिस नहीं करना चाहता। अगर मेरे पास अच्छी कहानी आती है तो मैं फिल्म स्वीकार कर लेता हूं। मैं ये नहीं कर सकता कि अरे, अभी तो मेरे पास डेट्स ही नहीं हैं। मुझे पता है कि मैं मना करूंगा तो कोई और ये फिल्म कर लेगा। स्टार पॉवर का तुर्रा दिखाने का वक्त अब नहीं रहा। स्टार पॉवर जैसा अब कुछ बचा भी नहीं। स्टार पॉवर अगर किसी में है तो वह है फिल्म की स्क्रिप्ट।’

Read Also:-देर रात तक जागने के चक्कर में बुरे फंसे तारक मेहता

महाराष्ट्र में भी सिनेमाघर खुलने की उम्मीद

ये पूछे जाने पर कि जब तमाम राज्यों ने सिनेमाघरों को 50 फीसदी क्षमता के साथ खोले जाने की अनुमति दे दी है लेकिन महाराष्ट्र में अब भी ये खुले नहीं हैं तो क्या इससे उनके ऊपर दबाव नहीं बढ़ रहा है। अक्षय ने कहा, ‘हां, दबाव ये है कि महाराष्ट्र में अब भी सिनेमाघर बंद हैं। किसी भी फिल्म की बॉक्स ऑफिस कमाई की 30 फीसदी रकम महाराष्ट् से आती है। और चूंकि सिनेमाघर बाकी जगहों पर भी 50 फीसदी क्षमता के साथ ही खुल रहे हैं तो वह भी भारी नुकसान ही है। मैं उम्मीद करता हूं कि फिल्म ‘बेलबॉटम’ की रिलीज से पहले यहां भी सिनेमाघर खुल जाएं।’

उद्धव ठाकरे जानते हैं उन्हें क्या करना है”

तो क्या उन्होंने इस बारे में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से बात करने की कोशिश की? इस सवाल पर अक्षय कहते हैं, ‘मुझे भरोसा है कि वह जानते हैं कि वह क्या कर रहे हैं। वह चाहते हैं कि सारी परिस्थितियां सुरक्षित रहें। अगर मैं आज अपनी फिल्म के बारे में बात करता हूं और कल को मामले बढ़ते हैं तो इल्जाम भी मेरे ही सिर आएगा। ये बेहतर होगा कि इस मामले में फैसला वो ही करें। उनको अपना काम अच्छे से आता भी है।’

Source: amarujala.com/photo-gallery/entertainment/bollywood/akshay-kumar-speaks-on-lara-dutta-amazing-makeover-in-bell-bottom-says-even-my-sister-could-not-recognize-her-read-details?pageId=2

 

You may also like

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More